वस्त्र-विहीनों से पूछो सर्दी में स्वेटर का मतलब ।।

फ़ुटपाथों पर रहने वालों से पूछो घर का मतलब ।।

जिनको इक भी जून मयस्सर भात नहीं दो कौर रहे ,

उनसे पूछो घूरे की मुट्ठी भर जूठन का मतलब ।।

-डॉ. हीरालाल प्रजापति

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *