( चित्र Google Search से साभार )

चार क़दम पर मंज़िल हो तो पहुँचें हम पैदल ॥

छोटी मोटी दूरी पार करें लेकर साइकल ॥

पर्यावरण रखें यों बेहतर सेहत को अच्छा ,

और बचाएँ नित-नित घटता पेट्रोल और डीज़ल ॥

-डॉ. हीरालाल प्रजापति 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *