( चित्र Google Search से साभार )

बर्फ़ हैं लेकिन हमेशा दिल जला देते हैं वो ॥

पैर बिन ही पुरख़तर ठोकर लगा देते हैं वो ॥

उनका हर इक काम हैरतनाक अजीबोग़रीब है ,

अपनी मासूमी के धोखे से दग़ा देते हैं वो ॥

-डॉ. हीरालाल प्रजापति 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *