लगती है थोड़ी देर फ़िक्र तू ज़रा न कर ।।

खाली न जाएगी मेरी दुआ है पुरअसर ।।

क़ाबिल है उसके जिसको माँगता है तू अरे ,

बेशक़ तू जल्द पाएगा उसे यक़ीन धर ।।

-डॉ. हीरालाल प्रजापति 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *