गिरा पड़ा ज़मीन से उठा उठाके दे ।।

ख़रीद कर दे छीन या झपट चुराके दे ।।

करे है दावा तू अगर ख़ुदा का तो मुझे ,

कहीं से भी किसी तरह वो चीज़ लाके दे ।।

-डॉ. हीरालाल प्रजापति 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *