जितना कहते हैं वो उतना कभी नहीं करते ॥

और जिस वक़्त पे कहते तभी नहीं करते ॥ 

आज का काम कल पे टालने के आदी हैं ,

कुछ भी अब का वो भूले भी अभी नहीं करते ॥ 

-डॉ. हीरालाल प्रजापति 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *