ठीक है मुझसे मुँह फेर तूने लिया ॥

आगे भी जो भी करना हो करना पिया ॥

चाहे करना बुरा किन्तु ऐसा लगे ,

साथ मेरे सदा तूने अच्छा किया ॥

-डॉ. हीरालाल प्रजापति

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *