लोग कहते हैं मैं मुस्कुराता नहीं ।।

मैं ये कहता हूँ मैं कुछ छुपाता नहीं ।।

हर तरफ़ मुश्किलें , बंद राहें सभी ;

कौन ऐसे में फिर मुँह बनाता नहीं ?

-डॉ. हीरालाल प्रजापति

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *